जलियाँ वाला हत्याकाण्ड की घटना को लिखिए ?

उत्तर- अमृतसर में जलियाँ वाला बाग एक छोटा – सा पार्क है । वहाँ 13 अप्रैल , सन् 1919 को भारतीय नेताओं को कैद करने पर विरोध प्रकट करने के लिए जनता एकत्र हुई । शांतिपूर्ण चल रही इस सभा पर ब्रिटिश अफसर जनरल डायर ने जनता को सबक सिखाने के लिए अपने सैनिकों से बिना किसी पूर्व चेतावनी के अन्धा – धुन्ध गोलियाँ चलवाईं । परिणाम यह हुआ कि दस मिनट में लगभग एक हजार लोग मारे गये । इसी प्रकार लगभग दो हजार लोग घायल हो गये । यही जलियाँ वाला बाग का हत्याकाण्ड था यह स्थान आज राष्ट्रीय स्मारक के रूप में प्रसिद्ध है । जानबूझकर किए गए इस हत्याकाण्ड के विरोध में आगे असहयोग आन्दोलन चलाया गया ।

 

Leave a Comment