आण्विक शक्ति की पाँच उपयोगिताएँ एवं एक महत्व लिखिए ?

उत्तर – महत्व- परमाणु ऊर्जा रेडियोधर्मी तत्वों के विखण्डन से प्राप्त की जाती है । इस ऊर्जा से विद्युत तैयार की जाती है । एक अनुमान के अनुसार एक किलो यूरेनियम से जितनी ऊर्जा प्राप्त होती है उतनी 27000 टन कोयले से प्राप्त की जाती हैं । पारम्परिक ऊर्जा स्रोतों की कमी से निपटने के लिए परमाणु ऊर्जा संयंत्रों की बड़ी भूमिका है । बम्बई में विद्युत का उत्पादन परमाणु रिएक्टरों के माध्यम से किया जा रहा है । 

 

उपयोगिताएँ- 

( 1 ) स्वतन्त्रता प्राप्ति के पश्चात् से ही भारत परमाणु ऊर्जा के शान्तिपूर्ण उपयोग की दिशा में प्रयासरत रहा है । 

( 2 ) बिजली उत्पादन में 1969 में तारापुर परमाणु शक्ति की स्थापना से भारत व्यावसायिक रिएक्टर केन्द्र बना । 

( 3 ) परमाणु ऊर्जा शक्ति के उपयोग ने ईंधन उत्खनन के क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य किया है । 

( 4 ) भारी पानी उत्पादन में भी परमाणु ऊर्जा शक्ति ने महत्वपूर्ण भूमिका प्रस्तुत की है । 

( 5 ) कचरे के प्रबन्ध में परमाणु ऊर्जा की आश्चर्यजनक उपयोगिता 

 

Leave a Comment