राज्य के नीति निर्देशक तत्वों से क्या आशय है ?

उत्तर- भारतीय संविधान के चौथे भाग में शासन संचालन के लिए मूलभूत सिद्धान्तों का वर्णन किया गया है , जिन्हें राज्य के नीतिनिर्धारण करने वाले निर्देशक तत्व कहा गया है । ये तत्व आधुनिक प्रजातंत्र के लिए राजनीतिक , सामाजिक तथा आर्थिक कार्यक्रम प्रस्तुत करते हैं । नीति निर्देशक तत्वों को किसी न्यायालय द्वारा प्रवर्तित नहीं कराया जा सकता , किन्तु ये तत्व देश के शासन में मूलभूत स्थान रखते हैं । इन तत्वों के माध्यम से भारत में एक लोक कल्याणकारी राज्य की स्थापना का प्रयास किया गया है । 

 

Leave a Comment