धन विधेयक पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए ?

उत्तर – धन विधेयक साधारण विधेयक से भिन्न तरीके से पारित होते हैं । धन विधेयक केवल लोकसभा प्रस्तुत होते हैं । लोकसभा धन विधेयक पारित होने के बाद धन विधेयक विचार के लिए राज्यसभा में भेजा जाता है । राज्यसभा को उसे 14 दिवस में पारित करना होता है । धन विधेयक में राज्यसभा किसी प्रकार से कोई संशोधन नहीं कर सकती । यदि राज्यसभा धन विधेयक में संशोधन करती भी है , तो यह विधेयक उसी रूप में पारित समझे जाते हैं , जिस रूप में उसे लोकसभा ने पारित किया है । वित्तीय मामलों में राज्यसभा की शक्तियाँ नगण्य हैं । लोकसभा द्वारा पारित होने और राज्यसभा में विचार उपरांत लोकसभा अध्यक्ष वित्त विधेयक पर हस्ताक्षर करके ( प्रमाणीकरण करके ) राष्ट्रपति को भेजता है । राष्ट्रपति द्वारा इस प्रकार पारित वित्त विधेयक पर हस्ताक्षर करना अनिवार्य है । 

 

Leave a Comment