मुद्रा की परिभाषा दीजिए ?

उत्तर – प्रो. मार्शल के अनुसार , ” मुद्रा में वे सब वस्तुएँ सम्मिलित हैं , जो किसी समय अथवा स्थान पर बिना किसी संदेह अथवा जाँच के वस्तुओं एवं सेवाओं को क्रय करने तथा व्यय का भुगतान करने के रूप में स्वीकार की जाती हैं । ” प्रो . एली के अनुसार- ” मुद्रा कोई भी ऐसी वस्तु हो सकती है , जिसका विनिमय के माध्यम के रूप में स्वतंत्रतापूर्वक हस्तान्तरण होता है , जो सामान्यतः ऋण के अन्तर्गत भुगतान में स्वीकार की जाती है । ” 

 

Leave a Comment