कृषि को ऋण देने वाली संस्थाओं की विवेचना कीजिए ?

उत्तर – कृषि को ऋण देने वाली संस्थाएँ निम्नलिखित हैं 

( अ ) कृषि सहकारी बैंक- 

कृषि सहकारी बैंक किसानों को अल्पकालीन ऋणों की सुविधाएँ कम ब्याज की दर पर प्रदान करते हैं । भारत में सहकारी बैंकों की रचना त्रिस्तरीय है । सबसे नीचे ग्राम स्तर पर प्राथमिक सहकारी साख समिति होती है । इन समितियों के ऊपर केन्द्रीय सहकारी बैंक होते हैं , जो आवश्यकता पड़ने पर इन समितियों को ऋण देते हैं । इन केन्द्रीय सहकारी बैंकों के ऊपर राज्य सहकारी बैंक होते हैं । राज्य सहकारी बैंक जिला सहकारी बैंक की ऋण सम्बन्धी आवश्यकताओं की पूर्ति करता है । राज्य सहकारी बैंकों को जब ऋण सम्बन्धी आवश्यकता होती है , तो राष्ट्रीय कृषि तथा ग्रामीण विकास बैंक , जिसे नाबार्ड भी कहा जाता है , इनकी मदद करता है । 

 

( ब ) भूमि विकास बैंक- 

भूमि विकास बैंक किसानों को दीर्घकालीन त्राण देते हैं । ये बैंक भूमि में सुधार करने , कुआँ खोदने , नलकूप लगाने , कृषि यंत्र खरीदने , ट्रेक्टर खरीदने आदि के लिए कम ब्याज पर 15 से 20 वर्ष की अवधि तक के लिए ऋण देते हैं । चूँकि इन बैंकों द्वारा भूमि को जमानत पर ऋण दिया जाता है , अतः इनका लाभ बड़े किसानों द्वारा अधिक उठाया जा रहा है ।

 

( स ) क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक- 

क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक की स्थापना वर्ष 1975 में की गई थी । इन बैंकों स्थापना विशेषकर दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को बैंकिंग सुविधाएँ पहुँचाने के उद्देश्य से की गई है । बैंकों द्वारा छोटे एवं सीमान्त कृषकों , कृषि श्रमिकों , ग्रामीण शिल्पकारों एवं छोटे उद्यमियों को ऋण प्रदान किये जाते हैं । देश में 30 जून , 2005 से क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों की 14,484 शाखाएँ कार्यरत हैं । 

 

( द ) राष्ट्रीय कृषि तथा ग्रामीण विकास बैंक- 

राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक की स्थापना कृषि विकास हेतु ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 12 जुलाई , 1982 को की गई । इसे संक्षेप में नाबार्ड कहते है । यह ग्रामीण ऋण ढाँचा में एक शीर्ष संस्था के रूप में कार्य करती है । यह संस्था अनेक वित्तीय संस्थाओं जैसे- राज्य भूमि विकास बैंक , राज्य सहकारी बैंक , वाणिज्यिक बैंक तथा क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक को पुनर्वित्त की सुविधाएं प्रदान करती है । अपनी ऋण सम्बन्धी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए नाबार्ड भारत सरकार , विश्व बैंक तथा अन्य संस्थाओं से धन प्राप्त करता है । 

 

Leave a Comment