भारत में उद्योग कितने प्रकार के हैं ? वर्णन कीजिए ।

उत्तर – 

1. स्वामित्व के आधार पर उद्योगों के प्रकार

(अ) निजी उद्योग- ये उद्योग निजी या व्यक्तिगत स्वामित्व में होते हैं । 

(ब) सरकारी उद्योग- ये उद्योग सरकार के स्वामित्व में होते हैं । 

(स) सहकारी उद्योग- ये उद्योग सहकारी स्वामित्व में होते हैं ।

(द) मिश्रित उद्योग- ये उद्योग निजी स्वामित्व , सरकारी स्वामित्व एवं सहकारी स्वामित्व में 

 

2. उपयोगिता के आधार पर उद्योग

( अ ) आधारभूत उद्योग- वे उद्योग , जो अन्य उद्योगों के आधार होते हैं । इनके उत्पादन अन्य उद्योगों के निर्माण तथा संचालन के काम आते हैं । जैसे लोहा – इस्पात उद्योग । 

( ब ) उपभोक्ता उद्योग- वे उद्योग , जो लोगों की दैनिक आवश्यकताओं की पूर्ति करने के काम आते हैं । जैसे- वस्त्र , चीनी , कागज आदि । 

 

3. आकार के आधार पर उद्योग

(अ) वृहद् उद्योग- औद्योगिक इकाइयाँ , जिनमें पूँजी निवेश 10 करोड़ रुपये या उससे अधिक हैं । जैसे- टाटा आयरन एण्ड स्टील कम्पनी । 

(ब) मध्यम उद्योग- जिनमें कुल पूँजी निवेश 5 से 10 करोड़ रुपये के मध्य है । जैसे- चमड़ा उद्योग । 

(स) लघु उद्योग जिनमें कुल पूँजी निवेश 2 से 5 करोड़ रुपये तक है । जैसे- लाख उद्योग । 

(द) कुटीर उद्योग- जिनमें पूँजी निवेश नाम मात्र का होता है तथा जो परिवार के सदस्यों की सहायता से चलाए जाते हैं । ग्राम में स्थित होने पर यह ग्रामीण उद्योग तथा नगर में स्थित होने पर नगरीय कुटीर उद्योग कहे जाते हैं । 

 

4. तैयार माल की प्रकृति के आधार पर उद्योग

(अ) भारी उद्योग- जिनमें भारी वस्तुओं , मशीनों आदि की निर्माण किया जाता है । जैसे- ट्रेक्टर बनाने का कारखाना । 

(ब) हल्के उद्योग- जिनमें दैनिक उपयोग की छोटी – छोटी वस्तुओं का निर्माण किया जाता है । जैसे – खिलौना उद्योग । 

 

5. कच्चे माल के आधार पर उद्योग 

(अ) कृषि आधारित उद्योग – वे उद्योग , जिन्हें कच्चा माल कृषि उत्पाद से प्राप्त होता है । जैसे- चीनी या वस्त्र उद्योग । 

(ब) खनिज आधारित उद्योग – वे उद्योग , जिन्हें कच्चा माल खनिजों से प्राप्त होता है । जैसे – लोहा इस्पात उद्योग । 

(स) वन आधारित उद्योग – वे उद्योग , जिन्हें कच्चा माल वनों से प्राप्त होता है । जैसे – कागज उद्योग । 

 

Leave a Comment