मुस्लिम लीग के कार्यों में पाकिस्तान के निर्माण की पृष्ठभूमि कैसे तैयार की ? समझाइए ।

उत्तर- मुसलमानों का एक शिष्टमण्डल अक्टूबर 1906 में आगा खाँ के नेतृत्व में भारत के वायसराय लार्ड मिण्टो से मिला और एक स्मृति – पत्र प्रस्तुत कर कुछ माँगें रखीं । माँगों में मुसलमानों के लिए अलग निर्वाचन क्षेत्र , विधान मण्डलों में मुसलमानों को अधिक स्थान , सरकारी नौकरियों और विश्वविद्यालयों की स्थापना में रियायतें और गवर्नर जनरल की परिषद में मुसलमान प्रतिनिधि की नियुक्ति का आग्रह था । अंततः लार्ड मिण्टो भारत में मुस्लिम साम्प्रदायिकता का जनक बना । अंग्रेजों के प्रश्रय से कट्टरवादी मुसलमानों ने 30 दिसम्बर , 1906 को अखिल भारतीय मुस्लिम लीग की स्थापना की । उन्होंने 1907 के लखनऊ अधिवेशन में लीग के संविधान को लागू किया । 

 

मुस्लिम लीग के प्रमुख उद्देश्य थे- 

( 1 ) भारतीय मुसलमानों में ब्रिटिश राज के प्रति भक्ति भावना उत्पन्न करना । 

( 2 ) ब्रिटिश शासन के समक्ष मुसलमानों के राजनीतिक अधिकारों और हितों की रक्षा के लिए माँग करना । 

( 3 ) लीग के उद्देश्यों को हानि पहुँचाये बिना मुसलमानों एवं अन्य जातियों में यथासम्भव मेल – जोल रखना । र मुस्लिम लीग के समर्थकों ने इन उद्देश्यों हेतु कार्य किये , जिससे पाकिस्तान – निर्माण की पृष्ठभूमि तैयार हुई ।

 

Leave a Comment