गाँधीजी के आरंभिक आंदोलन की तुलना में भारत छोड़ो आन्दोलन किस प्रकार भिन्न था ?

उत्तर- गाँधीजी के आरम्भिक आन्दोलन की तुलना में भारत छोड़ो आन्दोलन भिन्न था , क्योंकि भारत छोड़ो आन्दोलन कांग्रेस द्वारा प्रवर्तित आन्दोलन था । इस आन्दोलन को मुस्लिम लीग , साम्यवादी दल , हिन्दू महासभा ने समर्थन नहीं दिया । यद्यपि अन्य राजनीतिक दलों ने इसमें भाग नहीं लिया , परन्तु व्यक्तिगत स्तर पर अनेक लोग स्वतः इस आन्दोलन में सम्मिलित हुए । 1942 का भारत छोड़ो आन्दोलन स्वाधीनता का घोषित लक्ष्य प्राप्त करने में असफल रहा , परन्तु आन्दोलन इस दृष्टि से सफल रहा कि ब्रिटिश सरकार को यह विश्वास हो गया कि भारत की स्वाधीनता की मांग की लम्बे समय तक उपेक्षा नहीं की जा सकती है । इस आन्दोलन के कारण ही विश्व जनमत इंग्लैण्ड के विरुद्ध जागृत हुआ । इसी कारण आन्दोलन की समाप्ति के पश्चात् सत्ता के हस्तान्तरण का प्रश्न ही प्रमुख बना । 

 

Leave a Comment